अनेक शब्दों के लिए एक शब्द

 अनेक शब्दों के लिए एक शब्द

जिसका कोई आकार हो

साकार


जिसका कोई आकार न हो

निराकार


जिसमें दया हो

दयालु


जिसमें दया न हो

निर्दयी


जो आकाश मे चलता हो

नभचर


जिसमें कम बल हो

दुर्बल


जिसमें अधिक बल हो

बलवान


जो जमीन पर चलता हो

थलचर


जो अपने देश का हो

स्वदेशी


जो अपने देश का न हो

विदेशी


जो खेती करता हो

किसान


जो मिट्टी के बर्तन बनाता हो

कुम्हार


जो सोने के गहने बनाता है

सुनार


जो लोहे के औज़ार बनाता हो

लुहार


जो मांस खाता हो

मांसाहारी


जो साग- सब्जी खाता हो

शाकाहारी


जो मांस और साग-सब्जी दोनों खाता हो

सर्वाहारी


जो प्रतिदिन होता है

दैनिक


जो प्रति सप्ताह होता है

साप्ताहिक


जो प्रति मास होता है

मासिक


जो प्रति तीन मास में होता है

त्रेमासिक


जो प्रति छः मास में होता है

अर्ध-वार्षिक


जो प्रति वर्ष होता है

वार्षिक


जिसके आने की कोई तिथि न हो

अतिथि


जिसके समान कोई दूसरा न हो

अद्वितीय


जिसमें कोई गुण न हो

निर्गुण


जो कम बोलता हो

मितभाषी


जो अधिक बोलता हो

वाचाल


जानने की इच्छा रखने वाला

जिज्ञासु


जो पुराने विचारो में विश्वास रखता हो

रूढ़िवादी


जल में विचरण करने वाला

जलचर


रात्रि में विचरण करने वाला

निशाचर


Related Posts

Post a comment