"एक समतावादी नीति के रूप में आरक्षण"

 "एक समतावादी नीति के रूप में आरक्षण"

समतावादीता क्या है?
जहां समूह की सभी सदस्यों या राष्ट्र के नागरिकों को सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक, न्याय, विचार, अभिव्यक्ति, पूजा आदि की स्वतंत्रता का समान अवसर प्रदान किया जाता हो।

आरक्षण से तात्पर्य...
पूर्व शताब्दियों से किसी निश्चित वर्ग को अन्य वर्ग द्वारा अनेकशः प्रताड़ना के कारण असमान्य स्थितिक वर्ग को पुनः निश्चित आश्रयण प्राप्त कराकर उन्हें विकास के पथ पर सभी के समान अवसर प्राप्त कराना।

क्या आरक्षण समतावादीता को प्रोत्साहित करती है।
अनिश्चित
अर्थात प्रसंगानुसार कर भी सकती है और नही भी कर सकती।

समतावादीस्थ समानता का अर्थ "बराबर" से हैं?
व्यक्तित्व भिन्नता के कारण यहां समानता का तात्पर्य मनुष्य को अपनी जन्मजात योग्यताओं के अनुसार समान रूप से भाग लेने की स्वतंत्रता से है

क्या शैक्षिक समानता का तात्पर्य भी सभी के लिए समान शिक्षा से है?
नहीं
शैक्षिक समानता से तात्पर्य बालक की शारीरिक, मानसिक, मनोवैज्ञानिक, नैतिक परिस्थितियों के अनुरूप शिक्षा प्रदान करना है।

भारतीय संविधान समता को किस अनुच्छेद द्वारा सभी नागरीको का मूल अधिकार घोषित करता है?
(29) (2)

समानता के लिए सरकार द्वारा संचालित नीतियां संदर्भिकतया पर्याप्त हैं?
नहीं या नीतियाँ त्रुटिपूर्ण हैं।
क्योंकि समाज में अभी भी असमानता व्याप्त है।

शिक्षा में समानता के लिए आरंभित 1 से 8 वर्ष के बच्चों के लिए निःशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा का आरम्भ किस आयोग ने किया?
कोठारी आयोग

पूर्व की अपेक्षा स्त्रियों की स्थिति में अभूतपूर्व परिवर्तन का श्रेयम शिक्षा को दे सकते हैं?
पूर्णतः

क्या स्त्री शिक्षा के अभाव में एक शिक्षित समाज या परिवार का निर्माण संभव है?
नहीं
स्त्री शिक्षा के अभाव में शिक्षित समाज की परिकल्पना भी असंभव है

स्त्री शिक्षा के लिए राष्ट्रीय महिला समिति तथा महिला समाख्या योजना इत्यादि कार्यक्रमों का आयोजन वर्ष क्या था
क्रमशः 1958 तथा 1989

अनुच्छेद 46
अनुसूचित जातियों तथा जनजातियों के शैक्षिक और आर्थिक हितों को बढ़ावा देने तथा सामाजिक न्याय और अन्य तरह के शोषण से उनकी सुरक्षा करना

"छुआछूत दूर करना और किसी भी रूप में इस कुप्रथा पर प्रतिबंध लगाना" यह घोषणा संविधान का कौन सा अनुच्छेद करता है
अनुच्छेद 17

अनुच्छेद (1) (5)
अनुसूचित जातियों की हितों की दृष्टि से सभी नागरिकों को स्वतंत्रता पूर्वक आने-जाने बसने और संपत्ति अर्जित करने के आम अधिकारों में कमी करने की कानूनी व्यवस्था करना।

सामाजिक असमानता का श्रेय केंद्र तथा राज्य सरकारों द्वारा एकरूपता के साथ नीतियों को प्रायोजित न करने को दिया जा सकता है?
हाँ

केंद्र तथा राज्य सरकार द्वारा प्रायोजित कौन सी नीतियां समानता के लिए सहायक सिद्ध हुई है
(1) वित्तीय व्यवस्था
(2) प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए शिक्षण संस्थानों की व्यवस्था
(3) पुस्तक बैंक
(4) छात्रवृत्ति की व्यवस्थ
(5) मुफ्त शिक्षा व्यवस्था
(6) छात्रावास की व्यवस्था आदि

भारतीय संविधान द्वारा कुछ अनुसूचियां निर्वाचन क्षेत्रों में समानता को रुखसाना प्रदान करती हैं तथा वे साम्प्रदायिकता की आधार को भी समाप्त करती हैं
अनुच्छेद - '325' '330' '332'

"धार्मिक समानता अर्थात धर्म के आधार पर राज्य के द्वारा किसी नागरिक के विरुद्ध भेदभाव करना तथा सामाजिक या शैक्षिक रूप से पिछड़े वर्गों को उन्नति के लिए विशेष विधि का निर्माण करना" अनुच्छेद प्रस्तावित करता है
15(1) तथा 15(4)

सामाजिक व सांस्कृतिक दृष्टि से वंचित वर्ग की शिक्षा हेतु मुख्य चार क्या सुझाव हो सकते हैं
(1) प्रौढ़ शिक्षा की व्यवस्था
(2) प्रवेश में आरक्षण
(3)सरकार द्वारा सहायता
(4)लड़कियों की शिक्षा की विशेष व्यवस्था

भारत में विकलांगताग्रस्त जनों की शिक्षा की व्यवस्था क्या है?
(1)राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1986 के सुझाव (2)भारतीय बाल कल्याण बोर्ड की स्थापना
(3)मंदबुद्धि विकलांग बालकों की शिक्षा
(4)नेत्रहीन बालकों की शिक्षा
(5) विभिन्न राज्यों के प्रयास

Related Posts

Post a comment