राजस्थान मे पंचवर्षीय योजनाए

 राजस्थान मे पंचवर्षीय योजनाए

द्वितीय पंचवर्षीय योजना मे औद्योगिक विकास के किस क्षेत्र मे बल दिया गया
महालनोबिस मॉडल के आधार पर औद्योगिक विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता दी , अर्थव्यवस्था मे सार्वजनिक क्षेत्र को मत्वपूर्ण भूमिका

3rd FYP मे सर्वोच्च प्राथमिकता किन क्षेत्र मे दी गयी
राज्य की आधारभूत सुविधाओ के विकास के साथ राज्य के औद्यौगिक विकास हेतु विस्तृत कार्यक्रम बनाया गया

औद्योगिक विकास पर सर्वाधिक व्यय किस FYP मे किया
कुल परियोजना व्यय का 5.3 % 8th FYP.

Concept of area development introduce in which FYP
4th

District industries Centers for industrial Development introduced in which FYP
5th

When Highest priority shifted towards power sector?
1st six year plan

National Rural employment generation (NREP), IDRP introduced in
7th FYP

Reduction of Population growth is focused in which FYP
8th FYP

Gap between per capita income in State and national average was reduced in which FYP
9th FYP

राजस्थान की प्रथम औद्योगिक नीति
(24 जून 1978 )- कुटीर उद्योगो को प्रोत्साहन देकर बेरोजगारी व क्षेत्रीय असंतुलन को दूर करने का प्रयास ।

द्वितीय औद्योगिक नीति
(अप्रेल 1991)- रोजगार को बढ़ावा देने व खनन कार्यो, कृषिगत साधनो के उपयोग से वित्तीय साधनो को बढ़ावा दिया गया ।

तृतीय औद्योगिक नीति
(15 जून 1994)- तीव्र औद्योगिक विकास के लिए उद्योगो के निजीकरण को बढ़ावा दिया गया ।

चतुर्थ औद्योगिक नीति
(4 जून 1998)- राज्य को विशिष्ट क्षेत्रो मे विनियोग की दृष्टि से सर्वोच्च प्राथमिकता प्राप्त राज्य बनाना था ।

सातवीं औद्योगिक नीति (2019 )
अनुकूल औद्योगिक आधारभूत सरंचना, कुशल मानव संसाधन , उद्यमशीलता व नवाचार को बढ़ावा, उद्योगो का तकनीकी विकास, पर्यावरण संरक्षण व सतत औद्योगिक विकास , थ्रष्ट सेक्टर्स विकसित करना

देश मे उत्पादित कच्चे तेल का कितना % राजस्थान उत्पादित करता है
22- 23 %

राजस्थान मे विनिर्माण (infrastructure) क्षेत्र का 2019-20 GVA लगभग कितना है
94914 करोड़ रु (राज्य के कुल GSVA मे 9.82% हिस्सा) 2018 -19 की तुलना मे 2.10% वृद्धि

MSME Act 2019
नवीन स्थापित इकाइयों को अनुमोदन एवं निरीक्षण से 3 वर्ष की अवधि की छूट देना । राज उद्योग मित्र पोर्टल

राज्य के GSVA सकल राज्य मूल्य संवर्धन मे उद्योग क्षेत्र का योगदान
27.81 % (2019-20)

राज्य के GSVA सकल राज्य मूल्य संवर्धन मे खनन क्षेत्र का योगदान
6.62 % (2019-20)

औद्योगिक उत्पादन सूचकांक
औद्योगिक गतिविधियो मे आधार वर्ष की तुलना मे सामान्य स्तर पर हुई वृद्धि या कमी ।
शृंखला आधार वर्ष 2004-05 से परिवर्तित कर 2011-12 कर दिया गया ।3 वृहद समुह विनिर्माण, खनन, विद्युत पर आधारित ।

वित्तीय वर्ष 2019-20 मे IPI मे हुई सामान्य सूचकांक मे कमी
140.37 से 127.76

RIICO द्वारा "कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र " किस जगह स्थापित किया गया है
औद्योगिक क्षेत्र तिंवरी, जोधपुर मे

SEZ क्या है
13 मार्च 2003 को निर्यात को बढ़ावा देने के लिए राज्य की विशेष आर्थिक नीति जारी अब तक राज्य मे 5 विशेष आर्थिक क्षेत्र क्रियाशील किए जा चुके है।

RIICO द्वारा संचालित महत्वपूर्ण योजनाए
बाड़मेर रिफाइनरी के पास । ग्राम थोब, र,नगर मे एकीकृत औद्योगिक जॉन स्थापित करने की योजना।
इंडिया स्टोनमार्ट-2019 का आयोजन।
ग्लोबल स्टोन टेक्नोलोजी फोरम-2019 उदयपुर ।
रीको के औद्योगिक क्षेत्रो मे कौशल विकास को बढ़ावा के लिए प्रशिक्षण केंद्र।
जापानी इंस्टीट्यूट ऑफ मेनयुफेकचरिंग एक्सिलेन्स (JIM) नीमराना मे स्थापना

Related Posts

Post a Comment