रिक्त स्थानों की पूर्ति उचित संबंधबोधक अव्यय से कीजिए।

 रिक्त स्थानों की पूर्ति उचित संबंधबोधक अव्यय से कीजिए।

वृक्ष ----- बैठकर बदलू अपना काम किया करता था।
पर/के ऊपर

चूड़ियाँ बना चुकने ----- वह उन पर रंग करता था।
के बाद/पर

लाख को सलाख ----- पतला करके चूड़ी का आकार देता।
के साथ/से

मेरा दोपहर का समय अधिकतर बदलू --- बीतता।
के पीछे/के साथ

बदलू चबूतरे पर नीम ---- एक खाट पर लेटा था।
के नीचे/पर

अवस्था ---- उसका शरीर भी ढल चुका था।
ने/के साथ

वृक्षों की छाया ---- वह बस बड़ी दयनीय लग रही थी।
के नीचे/में

एक पुलिया --- पहुँचे ही थे कि एक टायर फिस्स करके बैठ गया।
के पास/पर

डाक व्यवस्था के सुधार --- पत्रों को सही दिशा देने के प्रयास किए गए।
के लिए/पर

पत्र व्यवहार परंपरा का असली विकास आज़ादी --- ही हुआ है।
बाद/के बाद

बड़ी देर के वाद-विवाद ---- यह तय हुआ कि सचमुच नौकरों को निकाल दिया जाए।
के साथ/के बाद

पानी के मटकों ---- ही घमासान युद्ध हो गया।
के टूटते/से टकराते

आलमआरा भारत ---- श्रीलंका, बर्मा और पश्चिम एशिया में भी पसंद की गई।
के प्रदेशों/के अलावा

जहाँ तक दृष्टि जाती थी बर्फ ---- कुछ दिखाई न देता था।
के अलावा/के बिना

मैं अपने दूसरे भाइयों ---- चट्टान में घुस गई।
की/के साथ

Related Posts

Post a Comment